An online Muslim photo & wallpapers. Islamic wallpapers, latest news & updates.
Islamic Wallpapers
natutre_wallpaper_by _islamic_wallpaper
natutre_wallpaper_by _islamic_wallpaper
Allah Wallpaper
Filed under: Hindi News — admin     3:51 pm April 20, 2011


महाराष्‍ट्र के जैतापुर में प्रस्‍तावित न्‍यूक्लियर प्‍लांट का विरोध, हिंसा और आगजनी जारी है। शिवसेना ने आज यहां एक दिन का बंद रखा, जिस दौरान जमकर हिंसा हुई। सोमवार को जैतापुर न्यूक्लियर प्लांट का विरोध कर रहे एक युवक की पुलिस फायरिंग में मौत हो गई थी। इसके विरोध में आज बड़ी संख्या में जनता सड़कों पर उतर आई। भीड़ ने कई स्थानों पर आग लगा दी और पुलिस पर पथराव किया। हिंसा के बाद प्रशासन ने रत्नागिरी में कर्फ्यू लगा दिया है। प्रशासन ने पुलिस फायरिंग में युवक की मौत के मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दे दिए हैं।

9,900 मेगावाट की उत्‍पादन क्षमता वाले इस प्रस्‍तावित प्‍लांट को लेकर महाराष्‍ट्र के रत्‍नागिरी में मंगलवार को भी तनाव बना रहा। आज आयोजित बंद के दौरान प्रदर्शनकारियों ने एक बस में आग लगा दी और रत्नागिरी के जिला अस्‍पताल में तोड़फोड़ की। भीड़ ने अस्पताल में मार्चुरी को काफी नुकसान पहुंचाया। कई स्थानों पर सड़कों पर आग लगा दी गई। इसी अस्पताल में सोमवार को पुलिस की गोली से मारे गए युवक की लाश रखी हुई है।

महाराष्‍ट्र विधानसभा में भी यह मामला गूंजा। विपक्ष के नेता एकनाथ खड़से ने कहा कि कोई भी निर्णय लेने से पहले स्थानीय निवासियों को विश्वास में लिया जाना जरूरी है। उन्होंने पुलिस फायरिंग की न्यायिक जांच की मांग की।

जैतापुर के हालात से चिंतित महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण ने शिवसेना के कार्यकारी अध्यक्ष उद्धव ठाकरे से इस बारे में बातचीत की है। शिवसेना इस आंदोलन की अगुवाई कर रही है।

शिवसेना के आरोप पर भड़के पर्यावरण मंत्री जयराम रमेश

जैतापुर में प्रस्तावित परमाणु उर्जा प्लांट को लेकर राजनीति भी गर्मा रही है। केंद्रीय पर्यावरण मंत्री जयराम रमेश ने शिव सेना पर आरोप लगाया है कि वे किसी भी जनहित के मुद्दे पर हमेशा राजनीति शुरु कर देते हैं। पिछले हफ़्ते पर्यावरण मंत्री जयराम रमेश ने कहा था कि जैतापुर प्लांट हर हालत में बनेगा। जयराम के इस बयान के बाद विरोध का आंदोलन और भड़क उठा। शिवसेना का आरोप है कि रमेश ने पहले कहा था कि प्लांट बनाए जाने पर फिर विचार किया जा सकता है लेकिन बाद में वे अपनी बात से पलट गए। रमेश ने कहा कि वे शिवसेना  के आरोपों से हैरान हैं।

नागरिकों की जायज है चिंता

इस प्‍लांट को लेकर स्‍थानीय लोगों की चिंता जायज भी है क्‍योंकि जापान में हाल में आए भीषण भूकंप और विनाशकारी सुनामी के बाद वहां के परमाणु संयंत्रों पर मंडराता खतरा पूरी दुनिया के सामने है।

एशिया में 32 रिएक्‍टरों से सुनामी का खतरा

भूकंप के लिहाज से बेहद संवेदनशील माने जाने वाले एशिया में परमाणु संयंत्र बनाने की होड़ लगी है। इन देशों के सामने तेजी से बढ़ती अर्थव्‍यवस्‍था और आबादी की जरूरतें पूरी करने के लिए ऊर्जा की बड़े पैमाने पर जरूरत है। चीन, ताइवान, भारत और कई अन्‍य देश अपने तटीय इलाकों में तेजी से परमाणु संयंत्र बनाने में जुटे हैं। ऐसा करने से पहले यह देखना बहुत जरूरी है कि ये परमाणु संयंत्र भूकंप या सुनामी की स्थिति में पूरी तरह सुरक्ष‍ति हैं या नहीं। परमाणु विशेषज्ञों और भूगर्भशास्त्रियों ने चेतावनी दी है कि एशिया में कम से कम 32 न्‍यूक्ल्यिर प्‍लांट ऐसे हैं जिन पर एक न एक दिन सुनामी का खतरा है।

चीन के दक्षिण पूर्वी तट पर दुनिया के सबसे परमाणु संयंत्रों में से एक का निर्माण होने जा रहा है। इसके अलावा इन इलाकों में तीन अन्‍य परमाणु संयंत्र बनाने की तैयारी है और इनमें कुछ पर काम शुरू हो गया है तो कुछ लगभग बन भी चले हैं। इसके अलावा ताइवान के दक्षिणी तट पर भी एक परमाणु ऊर्जा संयंत्र की तैयारी है। चीन, जापान और भारत सहित एशिया के कई देशों में समुद्र के किनारे बसे महानगरों में हो रहे अंधाधुंध निर्माण से इन इलाकों में भविष्‍य में भूकंप का खतरा तेजी से बढ़ रहा है। ऐसे में परमाणु संयंत्र स्‍थापित किए जाने से जापान के फुकुशिमा दायची न्‍यूक्लियर प्‍लांट जैसे हादसों के लिए भी तैयार रहना होगा।

एशिया महाद्वीप भूकंप के नजरिये से ‘सबडक्‍शन जोन’ में पड़ता है। यहां भूकंप तब आते हैं जब एक टेक्‍टोनिक प्‍लेट दूसरे से टकराकर खिसकती है। इसके बाद सुनामी की भी आशंका होती है। जानकारों का मानना है कि एशिया में पिछले 440 वर्षों में आए भीषण भूकंपों की वजह ‘म‍नीला ट्रेंच’ नहीं रहा है बल्कि समुद्री तटों पर बसे महानगरों में होने वाले अंधाधुंध निर्माण कार्य इसके लिए जिम्‍मेदार हैं।

मिनेसोता यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर डेविड यूएन कहते हैं, ‘हमें यह डर है कि सुनामी की विशाल लहरें चीन और ताइवान में बन रहे न्‍यूक्लियर प्‍लांट को भी तबाह कर सकती हैं। यह कोई जरूरी नहीं कि ऐसा अगले 10 वर्षों में ही हो, लेकिन 50 या 100 वर्षों में ऐसा हो सकता है।’

Source : Mahanagar Times

No Comments »

No comments yet.

RSS feed for comments on this post. TrackBack URL

Leave a comment


Islamic Wallpapers
We are Hiring
Join Community, Make Friends
Latest News
  • Ketron moves ahead with anti-terrorism bill
  • TM’s Islamic debt on stable outlook
  • Indonesia’s new terror threat: Targeted killings carried out by individuals, small groups
  • U.S. Hands Over Suspected Islamic Militant To Germany
  • Clergy united in their mission to protest rally by Florida pastor
Urdu News
Hindi News
  • अब जल्द आ रहा है बिना पेट्रोल के उड़ने वाला हवाई जहाज
  • रात के भी ‘राजा’ थे डायनासोर
  • साइबर हमले के नए निशाने
  • Controversial Islamic centre director was in Toronto: sources
  • ऐसी नाक, जो कैंसर का पता लगाएगी
Kalima Shahada mentioned in Quran
Stories of Sahabah
Popular Quran Quotes
Random 40 Hadith
Modern Muslim Women & Challenges
Marriage & family in Islam
Muslim Women World
Health, Beauty and Islam
Latest Posts
Muslim Women Rights In Islam
Random Photo
  • young Muslim group Egypt
Share
Bookmark and Share
Sponsored Links
  1. Surat Web Design
  2. Web Desgin Company
  3. kolkata Web Design Company
Most Popular Video
Facebook Like
Recent Comment
About Muslim Wallpapers
Islamic Blog provides information about latest Islamic News and updates. The website also contains large number of Islamic wallpapers and photos. You can also get here Islamic knowledge. We have also collected information about latest and relevant Islamic subjects. Apart from this you can find glittering stories off Sahabah.
Copyright © 2003-2010 islamicblog.co.in All Rights Reserved.
POWERED BY : SUHANASOFT